इण्टरव्यू (साक्षात्कार)

इण्टरव्यू (साक्षात्कार) – Mossberg


इण्टरव्यू (साक्षात्कार)

इण्टरव्यू (साक्षात्कार)

हिन्दी में इण्टरव्यू विद्या के प्रवर्तक पं० बनारसीदास चतुर्वेदी माने जाते हैं।इण्टरव्यू विद्या की प्रथम स्वतंत्र पुस्तक बेनीमाधव कृत ‘कवि दर्शन’ है।हिन्दी के कुछ महत्त्वपूर्ण साक्षात्कार निम्नलिखित हैं-

सम्पादकइण्टरव्यू या साक्षात्कार
बनारसीदास चतुर्वेदी(1) रत्नाकरजी से बातचीत (1931), (2) प्रेमचन्द के साथ दो दिन (1932)।
प्रभाकर माचवे(1) जैनेन्द्र के विचार (1939)
श्री नरोत्तम नागरअपने ही घर में सरस्वती का अपमान (1947)
बेनी माधव शर्माकवि दर्शन
पद्मसिंह शर्मामैं इनसे मिला (1955)
देवेन्द्र सत्यार्थीकला के साक्षात्कार
रणवीर रांग्रा(1) सृजन की मनोभूमि (1968), (2) साहित्यिक साक्षात्कार (1978)।
वीरेन्द्र कुमार गुप्तसमय और हम
रामावतारसमय, समस्या और सिद्धान्त
सुरेश सिन्हाहिन्दी कहानी और फैशन
शरद देवड़ा(1) हिन्दी की चार नवोदित लेखिकाओं से एक रंगमचीय काल्पनिक इंटरव्यू, (2) एक आलोचक की नोटबुक।
लक्ष्मीचन्द्र जैनभगवान महावीर एक इण्टरव्यू
माजदा असदमेरी मुलाकातें (1977)
अज्ञेयअपरोक्ष (1979)
अमृता प्रीतमशौक सुराही (1979)
मनोहर श्याम जोशीबातों बातों में (1983)
कमलकिशोर गोयनका(1) अभिमन्यु अनत : एक बातचीत (1985), (2) जिज्ञासाएँ मेरी : समाधान बच्चन के (1985)।
रामधारी सिंह ‘दिनकर’वट पीपल (1961)
ओमप्रकाश सिंहलगद्य के नये आयाम (1981)
उपेन्द्रनाथ ‘अश्क’कहानी के इर्द गिर्द (1971)
केशवचन्द्र वर्माशार्टकट की संस्कृति (1973)
कर्ण सिंह चौहानसाक्षात्कार : रामविलास शर्मा से बातचीत (1986)
रत्ना लाहिड़ीमूल्य : संस्कृति साहित्य और समय (1987)
भारत यायावररेणु से भेंट
कैलाश कल्पितसाहित्यकारों के संग (1887)
शरद नागर और आनन्द प्रकाश त्रिपाठीअमृत मंथन (1991)
रामविलास शर्मामेरे साक्षात्कार (1994)
समीक्षा ठाकुर(1) कहना न होगा (1994), (2) बात बात में बात (2006)।
कृपाशंकर चौबेसंवाद चलता रहे (1995)
भीष्म साहनीमेरे साक्षात्कार (1996)
पुष्पा भारतीधर्मवीर भारती से साक्षात्कार (1998)
प्रकाश मनु(1) मुलाकात (1998), (2) रामविलास शर्मा : अंतरंग स्मृतियाँ व मुलाकातें।
कमला प्रसादवार्तालाप (1998)
निर्मल वर्मामेरे साक्षात्कार (1999)
स्मिता मिश्राअंतरंग (1999)
कुमुद शर्मागाँव के मन से रू-ब-रू : विद्यानिवास मिश्र (2000)
अजय तिवारीआज के सवाल और मार्क्सवाद (2000)
विश्वनाथ प्रसाद तिवारीमेरे साक्षात्कार (2002)
बलरामवैष्णवों से वार्ता (2002)
केदारनाथ सिंहमेरे साक्षात्कार (2003)
हिमांशु जोशीमेरे साक्षात्कार (2003)
प्रभाकर श्रोत्रियमेरे साक्षात्कार (2003)
राजेन्द्र यादव(1) जवाब दो विक्रमादित्य (2003), (2) एंटन चेखव; एक इंटरव्यू
लीलाधर जगूड़ीमेरे साक्षात्कार (2003)
मोहन राकेशमेरे साक्षात्कार (2004)
त्रिलोचन शास्त्रीमेरे साक्षात्कार (2004)
श्रीलाल शुक्लमेरे साक्षात्कार (2004)
दूधनाथ सिंहकहा सुनी (2005)
परमानन्द श्रीवास्तवमेरे साक्षात्कार (2006)
पुष्पितासांस्कृतिक के आलोक से संवाद (2006)
कृष्णा सोबती और कृष्णबलदेव वैद्यसोबती-वैद संवाद
प्रेम कुमारसाधना से संवाद (2006)
जयप्रकाश कर्दममेरे साक्षात्कार (2012)

Interview। साक्षात्कार:अर्थ,परिभाषा,विशेषताएं और साक्षात्कार 

Leave a Reply